Business Idea: बिना बीएससी शुरू करें पेस्टिसाइड का बिज़नेस, हर महीने 1 लाख की कमाई

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Business Idea: आज आपको एक ऐसे बिज़नेस के बारे में बतानें वाले है जिसे शुरू करके आप वर्तमान और भविष्य में अच्छी कमाई कर सकते है | जैसा की आप सभी जानते हैं कि आज के समय में बीज, उर्वरक और कीटनाशक दवाइओं की बहुत डिमांड है | इसकी डिमांड के कारण बिक्री भी अच्छी रहती है जिससे बिजनेस में अच्छा मुनाफा मिलता है |

इस बिजनेस के लिए आपको सरकार के नियमोनुसार काम करना होगा | आप अपनी मेहनत से इसमें अच्छी कमाई कर सकते है | भारत में सरकार द्वारा खाद, बीज, और कीटनाशक दवाओं का बिज़नेस शुरू करने के लिए आपके पास बीएससी केमिस्ट्री अथवा एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन की डिग्री होनी जरूरी है | 

यदि आप पेस्टिसाइड का बिसनेस शुरू करना चाहते है और आपके पास वांछित डिग्री और कोर्स नहीं है तो आपके लिए एक खुशखबरी है | अगर आपने दसवीं पास की हुई है तो आप एक डिप्लोमा करके यह व्यवसाय शुरू कर सकते है | 

कोनसा है डिप्लोमा ?

यदि आपके पास बीएससी केमिस्ट्री अथवा एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन की डिग्री नहीं है तो आप दसवी बेस पर एक डिप्लोमा करके पेस्टिसाइड का बिसनेस शुरू कर सकते है | भारत सरकार द्वारा प्रत्येक ग्रामीण क्षेत्र में खाद, बीज, और कीटनाशक दवाएं उपलब्ध करवाने हेतु एक डिप्लोमा कोर्स को मान्यता दी है | 

आपकी जानकारी के लिए आपको बता दें की इस डिप्लोमा का नाम DAESI Diploma है जिसकी फुल फॉर्म Diploma in Agricultural Extension Service for input Dealers है | यह डिप्लोमा भारत के कई सरकारी और प्राइवेट यूनिवर्सिटीयों में कराया जाता है | इस डिप्लोमा को आप डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम से भी कर सकते है जिसमें की आप घर बैठे DAESI Diploma को कर सकते है सिर्फ आपको इसके लिए निर्धारित परीक्षा देने के लिए जाना पड़ेगा | 

यह भी पढ़ें: Business Idea: सर्दियों में सिर्फ 3 महीने में करें पुरे साल भर की कमाई, आज ही शुरू करें यह बिजनेस

DAESI Diploma कैसे करें ?

DAESI Diploma लाइसेंसधारी और नॉन लाइसेंसधारी प्रतिभागी कर सकते है जिन्होंने 10वी कक्षा उत्तीर्ण कर ली हो | बेरोजगार युवाओं के लिए स्वयं का कृषि के क्षेत्र में रोजगार के लिए यह एक वर्षीय डिप्लोमा कोर्स एक बढ़िया अवसर है | यह डिप्लोमा कोर्स अनुभवी वैज्ञानिकों और विषय विशेषज्ञ के द्वारा प्रायोगिक और सैद्धांतिक तरीकों द्वारा करवाया जाता है | 

यह डिप्लोमा कृषि विज्ञान केन्द्र द्वारा एनटीआई के तहत सर्टिफिकेट कोर्स आयोजित करवाया जाता है | इस डिप्लोमा कार्यक्रम के लिए आवेदन करने के लिए आपको अपने नजदीकी स्थित कृषि विज्ञान केन्द्र से संपर्क करना होगा | 

प्रतिभागीयों का चयन उनके संलग्न डाक्यूमेंट्स की जांच उपरांत किया जाता है इसके बाद इनकी सूचि दी जाती है | डॉ. बड़ोदिया के अनुसार भारत सरकार द्वारा कृषि विकास की पहुँच जमीनी स्तर तक पहुँचाने के लिए खाद, बीज, और कीटनाशक विक्रेताओं को प्रशिक्षित करके उन्हें एक वर्षीय कृषि आदान विक्रेताओ डिप्लोमा देने का कार्यक्रम शुरू किया गया है |

जिसके अंतर्गत प्रशिक्षणार्थियों को विभिन्न विषयों जैसे कीट रोग प्रबंधन, नवीन किस्म, बीजोत्पादन, खाद-उर्वरक प्रबंधन, उद्यानिकी फसल प्रबंधन, बैमोसमीय सब्जी उत्पादन, नर्सरी प्रबंधन, तकनीक, कीटनाशी अधिनियम, संचार प्रक्रिया तथा सोशल मीडिया का कृषि में उपयोग इत्यादि के बारे में कृषि विशेषज्ञों द्वारा विस्तृत रूप प्रशिक्षित किया जायेगा और अंत में परीक्षा आयोजित करके उन्हें सर्टिफिकेट डिप्लोमा दिया जायेगा |

पेस्टिसाइड का बिसनेस कैसे शुरू करें ?

यदि आपके पास बीएससी केमिस्ट्री अथवा एग्रीकल्चर में ग्रेजुएशन है तो आप इसके आधार पर इसका सरकार के एग्रीकल्चर डिपार्टमेंट में आवेदन कर लाइसेंस बनवाकर काम शुरू कर सकते है , और यदि नहीं तो आप DAESI Diploma करके यह बिजनेस शुरू कर सकते है | खाद, बीज, और कीटनाशक की कंपनियों से आप यह खरीद कर दुकान में बिक्री कर सकते है लेकिन कुछ सरकार के नियमों और निर्देशों का पालन करना अनिवार्य है |

डिस्क्लेमर :- 

भारत के सभी राज्यों में स्थानीय प्रशासन द्वारा उर्वरक एवं कीटनाशक दवाओं के विक्रेताओं के लिए अलग-अलग नियम और निर्देश निर्धारित किए गए कृपया यह बिजनेस शुरू करने से पहले आपको सबसे पहले इनके बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए | आपका दिन शुभ हो |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *